पर्यावरण संरक्षण का रामबाण महिलाओं के पास है (महिला दिवस 8 मार्च)

  • March 8, 2021
डा. मीना कुमारी  बता रही हैं सरकार करोड़ों-अरबों रुपए इस संदेश को फैलाने में खर्च करती है कि ‘पानी बचाओ, प्रकृति बचाओ’। इन सबके लिए रामबाण तो हमारे समाज की महिलाएं हैं 
Read More

पाकिस्तान डूब रहा है गहरातेे जल संकट में !

  • February 2, 2021
एस के वर्मा बता रहे हैं प्रत्येक जीवित ईकाई को जीने के लिए जल अनिवार्य शर्त है। परंतु पाकिस्तान में जीवन के इस सर्वप्रमुख स्त्रोत के सम्मुख बड़ा संकट उपस्थित हो चुका है।
Read More

ग्लोबल वार्मिंग के समाधान: वृक्षायुर्वेद, पंचवटी और पेड़-पौधों की प्राचीन भारतीय विधियाँ

  • January 25, 2021
राेेहित मेहरा बता रहे हैं  कि  प्राचीन भारतीय परंपराओं के माध्यम से  पर्यावरण से जुड़ी मौजूदा चुनौतियों का सामना कैसे किया जा सकता है तथा वृक्षायुर्वेद, पंचवटी और पेड़-पौधों की प्राचीन भारतीय विधियाँ आज पहले  से कहीं अधिक प्रासंगिक क्‍यों हैं 
Read More

वाजपेयी, जिन्ना और कम्युनिस्ट: समय की कसौटी पर वैचारिक विमर्श(25 दिसंबर)

  • December 25, 2020
अरूण आनंद बता रहे हैं कि 25 दिसंबर विचारधाराओं के संघर्ष के संदर्भ में एक महत्वपूर्ण तिथि है। इसी दिन जिन्ना,वाजपेयी व भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का जन्म हुआ जो अलग—अलग विचारधाराओं का प्रतिनिधत्व करते हैं।
Read More
Search